Lock Your Aadhaar Biometric Data : अपने बायोमैट्रिक डाटा को लॉक करें, तब स्कैम से रहेंगे सुरक्षित

Lock Your Aadhaar Biometric Data- आधार कार्ड एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है। आज के समय में आधार कार्ड एक पहचान पत्र की तरह काम करता है। आधार कार्ड में हर व्यक्ति का बायोमेट्रिक डेटा सुरक्षित होता है. आज के समय में धोखाधड़ी के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं, इनमें से कुछ मामले ऐसे भी सामने आ रहे हैं जहां लोगों के आधार कार्ड का बायोमेट्रिक डेटा चोरी हो रहा है। आप अपने आधार कार्ड में मौजूद बायोमेट्रिक डेटा का इस्तेमाल अलग-अलग जगहों पर करते हैं। उन सभी जगहों पर आपकी जानकारी हासिल कर ली जाती है और फिर धोखाधड़ी करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। यदि आप आधार कार्ड के बायोमेट्रिक डेटा का उपयोग करके धोखाधड़ी करते हैं, तो आपको किसी भी प्रकार का ओटीपी नहीं मिलता है और आपकी सहमति के बिना आपका बैंक खाता खाली हो सकता है।

ऐसी भयानक स्थिति से खुद को बचाने के लिए आपको अपना बायोमेट्रिक डेटा लॉक करके रखना चाहिए। आधार कार्ड का बायोमेट्रिक डेटा कैसे लॉक होगा और इसका इस्तेमाल करके कैसे चोरी की जा रही है और आपको क्या लाभ मिल सकता है, इसकी पूरी जानकारी आज के लेख में दी गई है।

Lock Your Aadhaar Biometric Data
Lock Your Aadhaar Biometric Data

Lock Your Aadhaar Biometric Data

जैसा कि हमने आपको बताया कि आज के समय में धोखाधड़ी बहुत तेजी से बढ़ रही है। तरह-तरह की चोरियां हो रही हैं, जिनमें से कुछ ऐसी हैं कि आपका बैंक खाता आपकी सहमति के बिना और बिना किसी ओटीपी के खाली हो सकता है।

जब आप अपने आधार कार्ड का उपयोग किसी दुकान या किसी संस्थान में करते हैं तो आपके द्वारा दिया गया फिंगरप्रिंट या किसी अन्य प्रकार का स्कैन रिकॉर्ड किया जाता है। अब इस बायोमेट्रिक डेटा का इस्तेमाल करके आपके आधार कार्ड से जुड़ा बैंक खाता खाली किया जा सकता है। ऐसी स्थितियों से खुद को बचाने के लिए अपने बायोमेट्रिक स्कैन को लॉक करना बहुत जरूरी है।

बायोमेट्रिक लॉकिंग के नुकसान

अगर आप अपने आधार कार्ड के बायोमेट्रिक्स को लॉक करते हैं तो इसके कुछ नुकसान हो सकते हैं जिनके बारे में आपको जानकारी होनी चाहिए। यह बात पूरी तरह से सच है कि जब आप अपने आधार कार्ड के बायोमेट्रिक्स को लॉक कर देते हैं, तो कोई भी आपकी अनुमति के बिना आपके आधार कार्ड की जानकारी का उपयोग नहीं कर सकता है।

लेकिन इसका एक नुकसान मुख्य रूप से छात्रों को हो सकता है। जब आप किसी प्रतियोगिता परीक्षा में शामिल होने जाते हैं तो आपका आधार कार्ड चेक किया जाता है और आपका फिंगरप्रिंट भी चेक किया जाता है। लेकिन जब आप अपने आधार कार्ड के बायोमेट्रिक्स को लॉक करते हैं तो अगर कोई आपके फिंगरप्रिंट का इस्तेमाल करता है तो आपके मोबाइल पर एक मैसेज आता है जिसमें ओके करने के बाद ही आपका फिंगरप्रिंट स्वीकार किया जा सकता है। इसकी वजह से परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को दिक्कत हो सकती है, इसलिए उन्हें अपने खाते में ज्यादा पैसे नहीं रखने चाहिए और बहुत जरूरी होने पर ही बायोमेट्रिक लॉक करना चाहिए।

अपना आधार बायोमेट्रिक डेटा लॉक करें

यदि आप अपना बायोमेट्रिक डेटा लॉक करना चाहते हैं तो आपको कुछ आवश्यक निर्देशों का पालन करना होगा, जिसका विवरण नीचे सूचीबद्ध है –

  • सबसे पहले आपको आधार कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट UIDAI पर जाना होगा।
  • इसके बाद होम पेज पर बायोमेट्रिक्स लॉक करने का विकल्प दिखाई देगा, जिस पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपना आधार नंबर लिखना होगा और ओटीपी भी जोड़ना होगा।
  • इसके बाद आपके बायोमेट्रिक्स को लॉक करने का विकल्प आएगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आपका बायोमेट्रिक लॉक हो जाएगा. अगली बार अगर आपको अपना बायोमेट्रिक अनलॉक करना होगा तो आपको यहां आकर इस सुविधा को फिर से सक्षम करना होगा।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में लॉक योर आधार बायोमेट्रिक डेटा के बारे में पूरी जानकारी दी गई है, जिसे पढ़ने के बाद सभी माता-पिता समझ सकते हैं कि आधार बायोमेट्रिक कैसे लॉक किया जाता है और आप अपने आधार कार्ड से जुड़ी जानकारी को बिना किसी परेशानी के कैसे लॉक कर सकते हैं। कर सकता है।

Copy करने से बचे DMCA आ सकता है