गन्ना पर्ची कैलेंडर देखे

Good News : मुख्यमंत्री के नए निर्देश, अब किसानों को आसानी से मिलेगी खाद।

Good News : मुख्यमंत्री के नए निर्देश, अब किसानों को आसानी से मिलेगी खाद

Good News :- सभी किसान रबी सीजन की बुवाई की तैयारी में लगे हुए हैं, ऐसे में किसानों के लिए यूरिया और अन्य उर्वरकों की व्यवस्था करना सबसे जरूरी है।

पूर्व में कई स्थानों पर किसानों को खाद खरीदने के लिए लंबी कतारों में लगना पड़ता था।

ऐसे में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने वीसी द्वारा उर्वरक वितरण की समस्या पर कुछ जिलों के कलेक्टरों से चर्चा की।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि किसानों को खाद आसानी से मिले।

वितरण केंद्र के पास टेंट, बैठक की व्यवस्था और पीने के पानी की व्यवस्था की जाए।

उन्होंने कहा कि उपलब्धता के बावजूद वितरण प्रणाली के अभाव में किसान को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़े।

कलेक्टर पूरी व्यवस्था पर नजर रखें ताकि किसान को लाइन में खड़ा न होना पड़े, उसका समय और ऊर्जा बर्बाद न हो।

प्रदेश में खाद की कोई कमी नहीं

  • मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि प्रदेश में न तो खाद की कमी है और न ही आने वाले समय में कोई कमी होगी।
  • वे केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री श्री मनसुख मंडाविया के नियमित संपर्क में हैं।
  • उन्होंने मध्यप्रदेश को आवश्यकता अनुसार खाद उपलब्ध कराने का कार्य सदैव किया है।
Good News Good News
Good News Good News
  • मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सतना, दमोह, सागर, छतरपुर, नीमच, नर्मदापुरम, देवास एवं इंदौर जिले के कलेक्टरों को इस माह की अपेक्षित मांग के अनुरूप उर्वरकों की उपलब्धता, वितरण केन्द्र संख्या, वितरण व्यवस्था एवं आपूर्ति व्यवस्था के संबंध में निर्देश दिये।
  • बैठक में हरदा जिले में प्रशासन द्वारा खाद वितरण की बेहतर व्यवस्था पर चर्चा की गयी।
  • कलेक्टर हरदा ने कहा कि जिले में अतिरिक्त काउंटर की व्यवस्था, विभिन्न एजेंसियों के बीच समन्वय, वितरण केंद्रों में आवश्यक सुविधाएं सुनिश्चित करने के अलावा चूक करने वाले किसानों सहित सभी को उर्वरक सुनिश्चित करने की व्यवस्था की गई है।
  • मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अन्य जिलों में भी इसी तरह के व्यवस्थित उपाय करते हुए किसानों की शिकायतों को शून्य करने के निर्देश दिये।

Good News : कलेक्टरों को दिए ये निर्देश

मुख्यमंत्री ने इस माह की अपेक्षित मांग के अनुरूप उर्वरकों की उपलब्धता, वितरण केन्द्र क्रमांक, वितरण व्यवस्था एवं आपूर्ति व्यवस्था की चर्चा करते हुए निम्नलिखित निर्देश दिये।

  • किसानों को किसी भी जिले में लाइन में नहीं लगना पड़ेगा।
  • जिन जिलों में आवश्यक विकेंद्रीकरण किया जाना है, वहां उर्वरक वितरण सुचारू रूप से हो।
  • खाद लेने के लिए किसानों को दूर-दूर से नहीं आना पड़ेगा।
  • यदि आवश्यक हो, तो इस कार्य के लिए अतिरिक्त कर्मचारियों को नियुक्त करें।
  • वितरण केंद्रों पर पेयजल की भी व्यवस्था की गई।
  • यदि आवश्यक हो तो वितरण के लिए अतिरिक्त केंद्र शुरू करें।

किसानो को अब बहुत फायदा होने वाला है किसान भाई को अगर खेती से संभंधित कोई भी सबाल है तो 1800-180-1551 इस नंबर की सहायता से पूछ सकते है आपकी हर समस्या का समाधान मिल जायगा। और किसान की सभी जानकारी समय समय पर पाने के लिए हमारा टेलीग्राम चैनल भी ज्वाइन कर सकते हो। आपको सभी जानकारी की सुचना टेलीग्राम चैनल पर मिल जायगी।


Originally posted 2022-11-12 01:45:33.

Comments are closed.