caneup 2024 24 में गन्ने का रेट क्या रहेगा और यूपी गन्ना पेमेंट 2024 कब तक आ गया देखे सभी जानकारी

caneup 2023 24 यूपी सरकार ने गन्ना किसानों के खातों में ₹350 प्रति क्विंटल की दर से गन्ना भुगतान किया। उत्तर प्रदेश की 70 फीसदी चीनी मिलें चालू हो चुकी हैं और सरकार ने अपने वादे के मुताबिक गन्ना किसानों को 14 दिन के अंदर भुगतान कर दिया है. लेकिन भुगतान 350 रुपये प्रति क्विंटल की दर से किया गया. सरकार ने पिछले दो साल से गन्ने का दाम नहीं बढ़ाया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों से सत्र 2023-24 में गन्ने का दाम बढ़ाने का वादा किया था

caneup 2023 24 

लेकिन मिल चालू होने के 20 दिन बाद भी सरकार ने गन्ने का दाम नहीं बढ़ाया है. सत्र 2022-23 में भी सरकार ने 70 दिन मिल चलने के बाद गन्ने का दाम नहीं बढ़ाया और इस साल भी 350 रुपये प्रति क्विंटल की दर से गन्ना भुगतान किसानों के खातों में आया. अगर सरकार इसमें 25 रुपये की बढ़ोतरी करती है तो गन्ने की नई कीमत 375 रुपये प्रति क्विंटल हो जाएगी. उत्तर प्रदेश में लगभग 45 लाख गन्ना किसान हैं, जो सभी राज्यों में सबसे अधिक है। गन्ने का सर्वाधिक उत्पादन पश्चिमी उत्तर प्रदेश में होता है।

2023-24 में गन्ने का रेट क्या होगा? गन्ना भुगतान?

यूपी सरकार ने अभी तक 2023-24 के लिए गन्ना मूल्य घोषित नहीं किया है, लेकिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों के लिए मूल्य बढ़ाने का वादा किया है। गन्ने की कीमत में करीब 25 रुपये की बढ़ोतरी के साथ गन्ने की नई कीमत 375 रुपये प्रति क्विंटल हो सकती है, जो दिसंबर में देखने को मिल सकती है. गन्ना विभाग ने 2023-24 का गन्ना बकाया 350 रुपये प्रति क्विंटल की दर से किसानों के खातों में भेज दिया है. यदि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गन्ने का मूल्य बढ़ाते हैं तो किसानों के खाते में सारी बकाया धनराशि भेज दी जाएगी। पूरे भारत में सबसे ज्यादा गन्ना किसान उत्तर प्रदेश में हैं, यहां लगभग 45 लाख गन्ना किसान मौजूद हैं।

लोकसभा चुनाव 2024 को देखते हुए मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने गन्ना मूल्य बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा है। कुछ दिनों बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गन्ना मूल्य को मंजूरी दे पाए.

यूपी गन्ना भुगतान 2023 कब आएगा? गन्ना भुगतान?

गन्ना भुगतान सत्र 2023-24 के लिए सरकार ने गन्ना किसानों के खातों में 350 रुपये प्रति क्विंटल की पहली किस्त भेज दी है. मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने अपने वादे के अनुरूप 14 दिन के अन्दर किसानों का गन्ना भुगतान कराया तथा प्रथम किस्त के रूप में 2023 रूपये गन्ना मूल्य का भुगतान किसानों को कराया। लेकिन सरकार ने अभी तक सत्र 2023-24 के लिए गन्ना मूल्य घोषित नहीं किया है, अब तक सरकार ने किसानों को उनका गन्ना बकाया भेज दिया है, सरकार दिसंबर में गन्ने का हिस्सा घोषित कर सकती है। अधिकारियों के मुताबिक गन्ने की नई कीमत 375 रुपये प्रति क्विंटल हो सकती है.

2023 के लिए यूपी में गन्ने का रेट क्या है?

सत्र 2021-22 के लिए यूपी में गन्ने की कीमत 350 रुपये प्रति क्विंटल है. सरकार ने पिछले तीन साल से गन्ने का दाम नहीं बढ़ाया है. सत्र 2022-23 में भी गन्ने की कीमत 350 रुपये प्रति क्विंटल रही और सत्र 2023-24 के लिए सरकार ने गन्ने की कीमत में बढ़ोतरी की है. सरकार ने गन्ने का दाम बढ़ाने की पूरी तैयारी कर ली है. इससे कीमत में 20 से 30 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी हो सकती है, जिससे गन्ने की नई कीमत 375 रुपये प्रति क्विंटल हो जाएगी. लेकिन गन्ना विभाग ने सीजन 2023-24 के लिए किसानों को 350 रुपये प्रति क्विंटल की दर से गन्ना भुगतान की पहली किस्त भेज दी. अगर यूपी सरकार गन्ने का दाम बढ़ाएगी तो किसानों का बकाया पैसा उनके खाते में भेजा जाएगा.

caneup 2023 24

यूपी गन्ने का रेट कब बढ़ेगा? गन्ना भुगतान ऊपर

यूपी गन्ना रेट को लेकर मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों से गन्ने का दाम बढ़ाने का वादा किया है, जिसके चलते सत्र 2023-24 के लिए दिसंबर तक गन्ने के दाम में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है। भारतीय किसान यूनियन और उत्तर प्रदेश सरकार के बीच 14 सूत्री समझौते पर चर्चा चल रही है जो दिसंबर के पहले हफ्ते तक हो जाएगी क्योंकि भारतीय किसान यूनियन गन्ने का दाम 450 रुपये प्रति क्विंटल करने की मांग कर रही है. यूपी सरकार के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले 3 वर्षों से गन्ने का मूल्य नहीं बढ़ाया है क्योंकि सरकार मिल चलने के 50 दिन बाद गन्ने का मूल्य घोषित करती है।

2023 में किसानों को गन्ने की बढ़ी कीमतों का पैसा कैसे मिलेगा?

सत्र 2023-24 के लिए गन्ना विभाग ने किसानों को 350 रुपये प्रति क्विंटल की दर से गन्ना भुगतान शुरू कर दिया है और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ पहले ही गन्ने के दाम में बढ़ोतरी की घोषणा कर चुके हैं. जिस दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गन्ने का दाम बढ़ाएंगे, 14 दिन के अंदर किसानों के खाते में बकाया भुगतान भेज दिया जाएगा। यदि मुख्यमंत्री यो

उत्तर प्रदेश की गन्ना मिल और उनकी वेबसाइट

जनपद का नाम चीनी मिल का नाम वेबसाईट
सहारनपुर देवबन्द www.kisaan.net
सरसावा (सहकारी) www.upsugarfed.org
ननौता (सहकारी) www.upsugarfed.org
caneup 2023 24  गागनौली www.bhlcane.com
शेरमऊ www.kisaan.net
मुजफ्फरनगर मन्सूरपुर www.krishakmitra.com
caneup 2023 24  खतौली www.kisaan.net
caneup 2023 24  रोहाना www.kisaan.net
मोरना (सहकारी) www.upsugarfed.org
caneup 2023 24  तितावी www.kisaan.net
caneup 2023 24  टिकौला www.kisaan.net
बुढाना www.bhlcane.com
खाईखेडी www.kisaan.net
शामली ऊन www.kisaan.net
थानाभवन www.bhlcane.com
शामली www.kisaan.net
मेरठ सकौती www.kisaan.net
दौराला www.kisaan.net
caneup 2023 24  मवाना www.kisaan.net
किनौनी www.bhlcane.com
नगलामल www.kisaan.net
बागपत रमाला (सहकारी) www.upsugarfed.org
मलकपुर www.kisaan.net
गाज़ियाबाद मोदीनगर www.kisaan.net
हापुड़ सिम्भावली www.kisaan.net
ब्रजनाथपुर www.kisaan.net
बुलन्दशहर अनूपशहर (सहकारी) www.upsugarfed.org
अगौता www.kisaan.net
साबितगढ www.kisaan.net
बिजनौर धामपुर www.krishakmitra.com
स्योहारा www.kisaan.net
बिजनौर www.wavesuger.com
चान्दपुर www.pbsfoods.in
स्नेहरोड (सहकारी) www.upsugarfed.org
बहादुरपुर www.dwarikesh.com
बरकतपुर www.kisaan.net
बुन्दकी www.dwarikesh.com
बिलाई www.bhlcane.com
अमरोहा चंदनपुर www.kisaan.net
धनुरा www.wavecane.in
गजरौला (सहकारी) www.upsugarfed.org
मुरादाबाद रानीनागल www.kisaan.net
बिलारी www.shreeajudhiasugar.com
अगवानपुर www.dewansugarsindia.com
बेलवाडा www.kisaan.net
संभल असमौली www.krishakmitra.com
रजपुरा www.krishakmitra.com
रामपुर बिलासपुर www.upsugarfed.org
मि.नरायनपुर www.kisaan.net
करीमगंज www.kisaan.net
पीलीभीत पीलीभीत www.lhsugar.in
बीसलपुर (सहकारी) www.upsugarfed.org
पूरनपुर (सहकारी) www.upsugarfed.org
बरखेडा www.bhlcane.com
बरेली बहेडी www.kisaan.net
सेमिखेरा (सहकारी) www.upsugarfed.org
मीरगंज www.krishakmitra.com
caneup 2023 24  नवाबगंज www.oswaloverseasltd.com
फ़रीदपुर www.dwarikesh.com
बदायूँ बिसौली www.kisaan.net
caneup 2023 24  बदायूँ (सहकारी) www.upsugarfed.org
कासगंज न्योली www.kisaan.net
शाहजहाँपुर रोज़ा www.kisaan.net
तिहार (सहकारी) www.upsugarfed.org
निगोही www.kisaan.net
मकसूदापुर www.bhlcane.com
पुवायां (सहकारी) www.upsugarfed.org
हरदोई रूपापुर www.dcmshriram.com
हरियावा www.dcmshriram.com
लोनी www.dcmshriram.com
लखीमपुर गोला www.bhlcane.com
ऐरा www.kisaan.net
पलिया www.bhlcane.com
बेलराया (सहकारी) www.upsugarfed.org
सम्पूर्नानगर (सहकारी) www.upsugarfed.org
खम्भारखेडा www.bhlcane.com
कुम्भी chini.com
caneup 2023 24  गुलरिया chini.com
सीतापुर हरगाँव www.kisaan.net
बिसवाँ www.kisaan.net
caneup 2023 24  महमूदाबाद (सहकारी) www.upsugarfed.org
रामगढ www.kisaan.net
जवाहरपुर www.kisaan.net
फर्रुखाबाद करीमगंज www.upsugarfed.org
बाराबंकी हैदरगढ www.kisaansuvidha.com
फैज़ाबाद रोजागांव www.kisaansuvidha.com
मोतीनगर www.kisaan.net
अम्बेडकरनगर मिझोडा www.kisaansuvidha.com
सुल्तानपुर (सहकारी) सुल्तानपुर www.upsugarfed.org
गोण्डा दतौली chini.com
कुन्दरखी www.bhlcane.com
मैजापुर chini.com
बहराइच जरवलरोड www.kisaan.net
नानपारा (सहकारी) www.upsugarfed.org
चिलवरिया www.kisaan.net
परसेंडी
बलरामपुर बलरामपुर
तुलसीपुर chini.com
caneup 2023 24  इटईमैदा www.bhlcane.com
बस्ती बभनान chini.com
caneup 2023 24  वाल्टरगंज www.bhlcane.com
रुधौली www.bhlcane.com
महाराजगंज सिसवाबाज़ार www.kisaan.net
caneup 2023 24  गडोरा jhv-suga
देवरिया प्रतापपुर www.bhlcane.com
कुशीनगर हाटा www.kisaan.net
caneup 2023 24  कप्तानगंज www.kisaan.net
खड्डा www.kisaan.net
caneup 2023 24  रामकोला (पी) www.kisaan.net
सेवरही www.kisaan.net
मऊ घोसी www.upsugarfed.org
आजमगढ़ सठिओं (सहकारी.) www.upsugarfed.org

गन्ना पर्ची किसान के लिए क्यों महत्वपूर्ण है जाने ।

  • आधिकारिक पहचान (Identification): गन्ना पर्ची किसान को एक आधिकारिक पहचान प्रदान करती है, जिससे वह अपने क्षेत्र में पहचान मिलती है और विभिन्न सरकारी योजनाओं और लाभों का उपयोग कर सकता है।
  • बैंक ऋण के लिए आवश्यक: गन्ना पर्ची, किसान को बैंकों से ऋण प्राप्त करने में सहायक होती है। बैंकों गन्ना पर्ची के आधार पर किसान को ऋण प्रदान करते हैं, जिससे उसे अपनी खेती में नए तकनीकों और सामग्रियों की आवश्यकता को पूरा करने में सहायता होती है।
  • बीमा क्षमता: गन्ना पर्ची से किसान अपनी फसल को बीमित कर सकता है, जिससे वह अनुभव कर रहे किसी भी हानि या नुकसान का मुआवजा प्राप्त कर सकता है।
  • सरकारी योजनाओं के लाभ: गन्ना पर्ची, किसान को सरकारी योजनाओं और समर्थनों का लाभ प्राप्त करने में मदद करती है। किसान गन्ना पर्ची के माध्यम से सरकारी सहायता, छूट और अन्य लाभों का उपयोग कर सकता है।
  • उत्पाद बेचने के लिए आवश्यक: गन्ना पर्ची किसान को अपने उत्पाद को बाजार में बेचने में मदद करती है। यह उन्हें व्यापारिक संगठनों और खरीदारों के साथ जोड़ती है, जिससे उन्हें उचित मूल्य मिल सकता है।
  • गैर-कृषि समर्थन: गन्ना पर्ची के माध्यम से किसान गैर-कृषि समर्थन भी प्राप्त कर सकता है, जैसे कि बीज, उर्वरक, औजार, और अन्य आवश्यक सामग्रियों के लिए।

Copy करने से बचे DMCA आ सकता है